किडनी स्टोन दूर करने के लिए है उपाय, अमेरिकन अभ्यासको का दावा .kidney stone ke upay.


किडनी स्टोन दूर करने के लिए है उपाय,
अमेरिकन अभ्यासको का दावा .

kidney stone ke upay.

अमेरीका मे म्यासाचुसेंटस इन्सीटयूड ऑफ़ टेक्नोलॉजी में अभ्यासकोने हाय ब्लड प्रेशर और

ग्लूकोमा बिमारियोपर उपयोग में लाने वाले 18 प्रकारके ओषध का उपयोग करके किडनी

स्टोनपर बहुत इजी उपाय शोधने का दावा किया है | 

किडनी स्टोन दूर करने के लिए है उपाय,  अमेरिकन अभ्यासको का दावा .kidney stone ke upay.


इन सभी औषधो का मिश्रण तयार करके एक ऐसी ओषध तयार की है की जिसके कारण

स्टोन का आकार कम होकर वो जल्द ही बहार निकलता है|

अभ्यासको के नुसार ये ओषध क्याथेटर के मार्फ़त थेट ureter में पोहचा जा सकता है |

ureter की थोड़ी साइज़ बढाके स्टोन बहार आ सकता है |

लैब में हो गई ओषधो की टेस्ट :


रिसर्च टीम के सहभागी किडनी स्टोन प्रोग्राम में निर्देशक मायकल सीमा और ब्रायन इस्नर

बोले की , अभ्यासकोने पहली बार उच्च रक्त दाब और ग्लूकोमा जैसी बिमारियोपर उपचार

करने के लिए उपयोग में लाने वाली 18 ओषधो की निवड की है |

किडनी स्टोन दूर करने के लिए है उपाय,  अमेरिकन अभ्यासको का दावा .kidney stone ke upay.


और बाद में ये ओषध प्रयोगशाला में एक डिश में मानव मुत्रवाहिनि के पेशी के साथ

संपर्क में लाये गए |

इससे ये दिखाई दिया की, ये चिकट ओषध मासपेशी के पेशी को कितना आराम देती है |

तो इसका रिज़ल्ट बहुत अछा था |

1 अब्ज पेशियोका विश्लेषण .


रिसर्च टीम ने ऐसा विचर किया की , ओषधे डायरेक्ट ureter क्यू नहीं पोहचाये ? इससे टयूब

रिलाक्स तो होगा ही , साथ ही में शारीर का संभाव्य नुकसान भी कम किया जा सकता है |

किडनी स्टोन दूर करने के लिए है उपाय,  अमेरिकन अभ्यासको का दावा .kidney stone ke upay.


उसके बाद अभ्यासकोने आसपास 1 अब्ज पेशियों का विश्लेषण करने के लिए कम्प्युटेशनल

टेकनिक का उपयोग किया | उन्होंने दो ऐसी ओषध ली की जो अच्छा काम कर सके|

इससे उनको पता चला की दोनों ओषध एक साथ देने से अच्छा रिज़ल्ट आ सकता है |

इसमें एक निफेडीपीन है , इस कैल्शियम चानल ब्लोकर का उपयोग उच्च रक्तदाब पर उपचार करने के

लिए किया ज्याता है |

और दूसरी ओषध ग्लूकोमा के उपचार के लिए उपयोग में लाई जाती है |

इस प्रयोग के लिए एक सिस्टोस्कोप का उपयोग करके ओषध डायरेक्ट ureter में रिलीज की |

ये एक क्याथेतर के जैसा है और एक क्यामेराके साथ ही जोड़ा जा सकता है | साथ ही में 

दुष्परिणाम

की शक्यता नहीं रहती | रिसर्च में आगे शोध लगाना चालू है की , इस ओषधो के कारण मासपेशी को
कितनी देर तक रिलाक्स रखा जा सकता है | साथ ही स्टोन जल्द ही बाहर निकला जा सकता है |



Post a Comment

3 Comments