hindi kids story jungle ki kahaniya जंगल की कहानियां बेचारा खरगोश

जंगल की कहानियां  (Hindi kids story jungle ki kahaniya)           

 बेचारा खरगोश

hindi kids story  jungle ki kahaniya  जंगल की कहानियां   बेचारा खरगोश

 

एक दिन की बात है

एक बांदीपुर नाम का जंगल था। वहां सब जानवर एक साथ रहते थे और अपना जीवन उस जंगल में हसीं खुसी से व्यथित करते थे ।लेकिन उस जंगल में क्या चल रहा है ये किसी को भी पता नहीं था सिवाए 


hindi kids story  jungle ki kahaniya  जंगल की कहानियां   बेचारा खरगोश
तोते के ।उस जंगल के खरगोश का दूसरे जंगल की हरिनी के साथ अफेयर चल रहा था ।वो खरगोश उस हरीनी को बहुत ही पसंद करता था और वो हरिनि भी उसे उतना ही पसंद करती थी ।वो दोनो कभी कभी

छुप , छुप के मिला करते थे ।ये बात खरगोश ने सिर्फ तोते को ही बताई थी क्यों की तोता खरगोश का सबसे अच्छा दोस्त था वो इन दोनों की हमेशा मदत करता था ।खरगोश शिकार के बहाने से हरीनि को 

मिलने जाता था आखिर एक दिन हरिणी ने खरगोश से कहा कि हम दोनों शादी कर लेते है


hindi kids story  jungle ki kahaniya  जंगल की कहानियां   बेचारा खरगोश
अपने अपने घरों में बता देते है।की हम दोनों एक दूसरे को चाहते है  और हम शादी करना चाहते है तब खरगोश चुपचाप से बैठ गया उसे कुछ समझ में नहीं रहा था क्यों की वो अपने घर वालो से बहुत 

डरता था ।फिर भी उसने हरिणी को हा कहे दिया ।और वो दोनो वाहा से निकल पड़े हरिणी  बहुत ही खुश थी वो अपने मां बाप की एक लोती बेटी थी और उसे पता था कि उसके घर वाले मा जाएंगे ।लेकिन 

खरगोश बहुत ही तनाव में गया था ।उसने ये बात तोते को बताई तोता बोला ठीक है में बात करूंगा तुम्हारे मा बाप से 


hindi kids story  jungle ki kahaniya  जंगल की कहानियां   बेचारा खरगोश
।बेचारा खरगोश बहुत डरा हुआ था ।वो दोनो अपने बांदीपुर जंगल में गए और तोते ने ये बात उसके मा बाप से कह दी ।खरगोश के मा बाप बहुत चकित हो गए और उस काले जंगल का नाम बताते ही उन्होंने ना 

कहे दिया क्योंकि बांदीपुर और काले जंगल का बहुत दिन पहले झगड़ा हुआ था। वो दोनो बेचारे खरगोश को ही डाटने लगे। फिर खरगोश वाहा से निकल गया ।तोते ने कहा खरगोश यार तू टेंशन मत ले में 

करूंगा सब ।तुम दोनों की शादी अवश्य होगी ।फिर तोते ने जंगल के राजा से कहकर  जंगल में सभा बुलाई और ये बात सबको बता दी


hindi kids story  jungle ki kahaniya  जंगल की कहानियां   बेचारा खरगोश
तोते ने कहा देखो राजा दुश्मनी तो दो जंगलों में है फिर इन दोनों का क्या कसूर है इन दोनों का दिल तोड़कर हमें क्या मिलेगा ।तब राजा ने कहां हा तोता सही कह रहा है हमें इन दोनों की शादी कर देनी चाहिए।

बाद में खरगोश के मा बाप के भी समज में गया और उन्होंने हां  कहे दी ।खरगोश खुशी के मारे बहुत ही उछल रहा था।उसने अपने मा बाप को गले लगाया और तोते को भी गले लगाया क्योंकि तोते के 

वजह से ही वो दोनो मिल सके ।और बाद में उन दोनो की शादी हो गई और वो दोनो अच्छे से रहने लगे

 

सिख : हमेशा अच्छे दोस्त ही काम आते है

ये इंट्रेस्टिंग स्टोरी जरुर पढ़िए :।जासूस बदक (चोरी किसने की)। हिंदी कहानिया hindi kids stories.


Post a Comment

5 Comments