सर्दियों में त्वचा की देखभाल कैसे करें , चेहरे की सुंदरता बढ़ाने के उपाय |

सर्दियों में त्वचा की देखभाल कैसे करें , चेहरे की सुंदरता बढ़ाने के उपाय |

 सर्दियों में त्वचा की देखभाल कैसे करें , चेहरे की सुंदरता बढ़ाने के उपाय |winter skin care tips


सर्दियों में त्वचा की देखभाल कैसे करें , चेहरे की सुंदरता बढ़ाने के उपाय |winter skin care tips

त्वचा हमारे शरीर का एक महत्वपूर्ण अंग है। किसी भी अवस्था या मौसम में इसका सौंदर्य बनाए रखना ही हमारा प्रथम प्रयास होता है। यूं तो ऋतु परिवर्तन त्वचा संबंधी समस्याएं लेकर आता है, किंतु शीत ऋतु का आगमन त्वचा के लिए सबसे बड़ी परेशानी है। रूखापन, झुर्रियां, चमक मिट जाना, हाथ-पैर फटना, होठों का तड़कना तथा शरीर में खुश्की होना जैसी परेशानियां इस ऋतु की प्रमुख समस्याएं हैं। आप चाहें, तो थोड़ी-सी सावधानी से आपकी त्वचा पूर्ण स्वच्छ, चिकनी, कोमल व दाग रहित बनी रह सकती है।

बोलने का तरीका आपके सौंदर्य को निखारता है beauty of voice


त्वचा परिवर्तन


सर्दियों में त्वचा के नीचे की तेल ग्रंथियां निष्क्रिय हो जाती हैं। इससे उनसे बनने वाला प्राकृतिक तेल त्वचा की ऊपरी सतह तक नहीं पहुंच पाता है। इस कारण शुष्कता हो जाती है और त्वचा का स्वरूप बिगड़ जाता है। अतः त्वचा को कृत्रिम रूप से नम बनाए रखना आवश्यक है। त्वचा को नम बनाने के लिए सर्वप्रथम अपनी त्वचा की पहचान करना आवश्यक है।


पहचान का तरीका


त्वचा को पहचानने के लिए सुबह उठने के पश्चात् अपनी त्वचा को टिश्यू पेपर से पोंछिए। अगर टिश्यू पेपर पर अधिक चिकनाई आती है, तो त्वचा तैलीय है। अगर टिश्यू पेपर पर हल्की चिकनाई हो, तो इसका अर्थ है आपकी त्वचा सामान्य है। अगर टिश्यू पर बिल्कुल चिकनाई न हो, तो समझिए आपकी त्वचा शुष्क है ।


उपचार


जो त्वचा स्पष्ट चिकनाई युक्त दिखाई देती है, वह कील-मुंहासों व दाग-धब्बों chota sa sadabahar ka podha kar dega apko choti choti bimariyo se azad ( evergreen ) का जल्दी शिकार बनती है। इस प्रकार की तैलीय त्वचा के लिए नींबू के रस का प्रयोग लाभकारी है।


गुनगुने पानी में कुछ बूंदें टिंवर बेंजोइन की मिलाकर सफाई के लिए प्रयोग करना चाहिए। रूखापन दूर करने के लिए गुलाबजल में डबलरोटी मिलाकर गाढ़ा पेस्ट बनाएं। मास्क चेहरे पर पूरी तरह सूखने के पश्चात धो लें या एक चम्चम अंडे की सफेदी व एक बड़ा चम्मच दूध पाउडर मिलाकर लगाएं। इसे तीस मिनट बाद धो लें। आपकी त्वचा कुछ ही दिनों में सुंदर व कोमल हो जाएगी। इस प्रयोग को सप्ताह में कम-से-कम दो बार करें।


शुष्क त्वचा कोमल, कमजोर तथा संवेदनशील होती है। इस पर झुर्रियां जल्द पड़ती हैं। इस त्वचा में सर्दियों में खुश्की और त्वचा फटने के लक्षण शीघ्र दिखाई देने लगते हैं। यह धूप में लाल हो जाती है। ऐसी त्वचा वालों को साबुन के प्रयोग से परहेज रखना चाहिए। इसकी सुरक्षा के लिए गर्म पानी व नींबू के रस ही उपयोगी हैं।


वैसे ऐसी त्वचा वाली महिलाओं को स्नान से पूर्व उबटन अवश्य कर लेना चाहिए। अंडे की जर्दी या जैतून का तेल, छोटे चम्मच मुल्तानी मिट्टी का पाउडर और उसमें गुलाबजल मिलाकर चिकना पेस्ट बनाएं तथा पानी से मुंह को अच्छी तरह धोकर तीस मिनट तक सप्ताह में दो बार प्रयोग करें। आपकी त्वचा मुलायम और चिकनी हो जाएगी।


सामान्य त्वचा, जिसे आदर्श त्वचा भी कहा जाता है, वह कोमल, कांतिवान और आकर्षक होती है। इस त्वचा के लिए एक अंडे की जर्दी, एक बड़ा चम्मच सिरका, एक चौथाई सरसों का तेल। इन सब मिश्रण को जब तक कि यह गाढ़ा न हो जाए, इसे चेहरे पर लगाएं और सूखने पर धो डालें।


कुछ दिन बाद आपकी त्वचा रौनक लिए होगी और न फिर इसके उपचार की जरूरत होगी और न कुरूप होने का डर।


ये भी पढ़िए : खुद को सुंदर कैसे बनाएं । चेहरे की सुंदरता बढ़ाने के उपाय tips for fair skin

Post a Comment

0 Comments